SOCIAL EDUCATION

64290_589074357887916_6559859254211041986_n                                  लोकतांत्रिक शिक्षा:-

असली लोकतंत्र मे हर व्यक्ति को अपने बारे मे सोचने के लिए शिक्षित होने की जरुरत है. यह संभवतया लोकतंत्र की अंतिम और सबसे गहरी आधारशिला है. ज्ञान सर्वश्रेठ शोधक है, वह अंधकार को नष्ट कर सत्य को उदघाटित करता है. इस महत्वपूर्ण कार्य को सिर्फ राजनेताओ के भरोसे नही छोड़ा जा सकता है, इसे जनता के द्वारा निगरानी की जानी चाहिए. 

जीवन मे 99% समस्या कारण “बौद्धिक पिछड़ापन” है। “समाजिक विकास” के लिए “मानसिकता का बदलाव” बहुत जरुरी है।

                        Democratic Education:-

In real democracy, every person needs to be educated to think about. This is probably the last and deepest foundations of democracy. Researcher knowledge is number one, he revealed the truth that destroys darkness. This important work not only to be left at the mercy of politicians, it should be monitored by the public. 

99% due to problems in life, “intellectual backwardness” is. “Social development” for “change of mentality” is very important.

एक स्त्री :- एक परिचय.

स्त्री अथाह पीड़ा  से गुजर कर एक जीव को जन्म देती है. पुरुष अपने शारीरिक संरचना बल के कारण अहं मे रहता है. यह अहं ही पुरुष की कमजोरी है, पर ज्यादातर लोग इस मुद्दे को नही समझ पाते है. स्त्री मे, आत्मबल एवं काम बल, पुरुष से आठ गुणा ज्यादा होती है. स्त्री के आत्मबल एवं काम बल के आगे कुछ भी नही टिकता है. पुरुष यह बात जानते है, इसलिए भयभीत रहते है. इसी भय की वजह से, स्त्री के विरुद्ध, सारे प्रपंच होते है. एक विकसित समाज हेतु, लैंगिक अंतर एवं गर्भ हत्या, खत्म किया जाना चाहिए. एक स्त्री के साथ, बराबरी,श्रेष्टता, इंसानियत की बात होनी चाहीए.   

A woman: – An Introduction.

Woman gives birth to the immeasurable suffering an organism. Male ego lives in his physical structure due to the force. The weakness of the male ego, but most people fail to understand is not the issue. In women, the strength and the work force, men are eight times more. Woman sustains the spirit and of the work force is not anything further. Men know this, so is feared. Because of this fear, against women, are all phenomena. For a developed society, the gender gap and killing womb, must be eradicated. With a woman, equality, excellency, you say be a matter of humanity.

s4s 002  *कहानी:- अंधविश्वास.

एक गिध्द का बच्चा अपने पिता से बोला. आज मै इनसान का मांस खाना चाहता हूँ. पिता बोला, शाम को मिलेगा. गिध्द उड़ा, सुअर का मांस ले कर आ गया. बच्चा बोला, मुझे तो इनसान का मांस खाना है.  पिता बोला, शांत रह. फिर पिता ने गाय का मांस ला कर दिया. फिर बच्चा बोला, सिर्फ मुझे इनसान का मांस खाना है. पिता बोला, धैर्य रख. गिध्द ने  सुअर का मांस मस्जिद के पास रख दिया और गाय का मांस मंदिर के पास रख दिया. कुछ ही देर मे दंगा फैल गया और इनसान के  मृत शरीर का ढ़ेर लग गया. गिध्द और बच्चा, दोनो मिलकर खुब इनसान का मांस खाया.

*नैतिकता:-  धर्म के नाम पर इनसान जानवर से  भी बद्तर हो जाते है. क्योकि हमारे बिच मे ऐसे कई कूटनीतिक एवं राजनितिक लोग है,जो निजि स्वार्थ के लिए मनुष्य को मोहरा बनाते है.

* शिक्षा:- ऐसी परिस्थिति मे शांति, धैर्य, विवेक, से काम ले, प्रशासन को सुचित करे.

 *Story: – superstition.

*Gidhd of a child his father said. Today I want to eat the flesh of man. Father said, the evening will. Gidhd  blown, pork has come up. The child said, I have to eat the flesh of man. The father said, stay calm. Then the father was bringing beef. Then the child said, just let me eat the flesh of man. The father said, have patience. Gidhd  placed near the mosque pork and beef hung near the temple. Shortly.If riot spread and turned into a pile of dead bodies of human beings. Gidhd  and baby, both consisting eaten a good sport man.

* Ethics: – the name of religion is man become worse than animals. Because in the middle of our many diplomatic and political people who make personal selfishness pawn for humans.

* Education: – In such a situation, peace, patience, discretion, carry out the work, the administration proposed it.

603838_409129049248708_4247582330175322269_n

 *गहरे अर्थपूर्ण सोच.

*दुनिया मे सब चीज मिल जाती है, परन्तु केवल अपनी गलती नही मिलती है.

*बुलंदी की उड़ान पर हो तो जरा सब्र रखो, परिंदे बताते हैं कि आसमान मे ठिकाने नही होते.

*जिस मजार पर चादर बेशुमार चढ़ा करती थी, लेकिन बाहर बैठा कोई फकीर सर्दी से मर गया.

*कितनी कोमल ख्वाहिश होती है इस नादान दिल की, जो चाहता है कि शादी भी करुँ और खुश भी रहूँ.

*छत टपकती है जिसके कच्चे घर की, वो किसान भी बारिश की दुआ माँगता है.

*अब सीख रहा हूँ मैं भी इंसानो को पढ़ने का हुनर, सुना है कि चेहरे पर किताब से ज्यादा लिखा होता है.

*मै फकीर होते हुए भी खुल कर हँस रहा हूँ, वे अमीर होकर भी मुस्कुरा नही पाता है. 

 *Thinking deeply meaningful.

*Got the whole thing in the world is, but that does not your fault.

*Just have patience, then at the height of the flight, that the bird in the sky are not the hideout.

*The shrine was boarded unnumbered sheet, but sat out the winter died of a mystic.

*How gentle is the desire of the silly heart, who wants to do and happy to be at the wedding.

*Leaky roof which raw house, she asks farmers blessings of rain.

*Now I am learning to read people and skills, hear more from the book is written on the face.

*Notwithstanding mystic I’m laughing openly, they are rich and do not have to even be smiling.

11025793_464656203683121_1775864698919426861_n

Any Inquiries-  click here